उत्तराखंड, हिमाचल और वेस्ट यूपी के लिए शुरू होने वाला है एक नया न्यूज चैनल

E-mail Print PDF

: करीब ढाई हजार करोड़ रुपये की टर्नओवर वाली दो बड़ी कंपनियां संयुक्त रूप से 'नेटवर्क-10 ग्रुप' बनाकर ला रही हैं चैनल : सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से चैनल के लिए 'नेटवर्क10' नाम से लाइसेंस जारी : उत्तराखंड के वरिष्ठ पत्रकार बसंत निगम बनाए गए इस नए चैनल के प्रमुख : मार्च आखिर तक नियुक्तियां होने और मई में चैनल लांच किए जाने की संभावना :

रीजनल न्यूज चैनलों की दुनिया में एक और नए व बड़े चैनल का प्रवेश होने जा रहा है. यह चैनल उत्तराखंड, हिमाचल और हरित प्रदेश के लिए होगा. हालांकि हरित प्रदेश का अलग प्रदेश के रूप में अस्तित्व अभी नहीं है लेकिन वेस्ट यूपी के लोग खुद के इलाके को हरित प्रदेश के रूप में मानते हैं और उत्तर प्रदेश से अलग कर हरित प्रदेश बनाए जाने की मांग यहां लंबे समय से उठती रही है. अगर हरित प्रदेश को अलग प्रदेश के रूप में मान लें तो कुल तीन प्रदेशों उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश और हरित प्रदेश के लिए 24x7 न्यूज चैनल लाने की तैयारी चल रही है. यह चैनल 'नेटवर्क10' नाम से होगा.

इस चैनल के लिए लाइसेंस और अपलिंकिंग व डाउनलिंकिंग परमिशन सूचना प्रसारण मंत्रालय से हासिल किया जा चुका है. जो कंपनी इस चैनल का संचालन करेगी उसका नाम 'नेटवर्क10 ग्रुप' है. इस कंपनी में दो बड़ी कंपनियां साझीदार हैं जिनमें एक का सालाना टर्नओवर 500 करोड़ रुपये बताया जा रहा है तो दूसरे का करीब 2000 करोड़. ये कंपनियां मुख्यतः हाइड्रो प्रोजेक्ट्स व अन्य कारोबार में लगी हैं. चैनल का मुख्यालय देहरादून में होगा. 'नेटवर्क10' न्यूज चैनल का हेड बसंत निगम को बनाया गया है. बसंत अभी तक 'चढ़दी बसंत निगमकलां टाइम टीवी' के उत्तराखंड हेड के रूप में देहरादून में कार्यरत हैं. कानपुर के रहने वाले बसंत चार साल से टाइम टीवी के साथ जुड़े हुए हैं. सूत्रों के मुताबिक नए चैनल ''नेटवर्क10'' का मकसद सिर्फ सूचनाएं जनता तक पहुंचाना न होगा बल्कि इनफारमेशन के साथ क्षेत्रीय समस्याओं, न्यूज, व्यूज और रिव्यूज को भी प्रमुखता से पेश किया जाएगा. इनफारमेशन और इंटरटेनमेंट भी पार्ट होगा.

सूत्रों का कहना है कि चैनल का फोकस उत्तराखंड और हिमचाल पर रखने के साथ-साथ वेस्ट यूपी पर भी रहेगा क्योंकि अभी तक वेस्ट यूपी उर्फ हरित प्रदेश का कोई अपना चैनल नहीं है. बताया जा रहा है कि 'नेटवर्क10' में वरिष्ठ पदों पर टीवी व प्रिंट में कार्यरत कुछ वरिष्ठ पत्रकारों की ज्वायनिंग हो चुकी है लेकिन उनके नाम का खुलासा इसलिए नहीं किया जा रहा है क्योंकि वे लोग अभी अपने-अपने संस्थानों में कार्यरत हैं. उनके इस्तीफा देते ही नामों का खुलासा कर दिया जाएगा. माना जा रहा है कि उत्तराखंड, वेस्ट यूपी और हिमाचल के कुछ वरिष्ठ पत्रकारों के अलावा दिल्ली में कार्यरत कई वरिष्ठ पत्रकार इस चैनल के हिस्से बनेंगे. नेटवर्क10 का स्टूडिया देहरादून में हरिद्वार बाईपास पर बनाया जा रहा है.

इस चैनल से जुड़े एक पदाधिकारी का कहना है कि रीजनल चैनलों में नेटवर्क10 पहला ऐसा चैनल होगा जिसका स्टूडिया आईबीएन7 और एनडीटीवी के टक्कर का होगा और टेक्निकली इन्हीं बड़े चैनलों की तरह वेल इक्विप्ड होगा. करीब साठ बाई चालीस का स्टूडियो बनाया जा रहा है. ''नेटवर्क10'' की ब्रांडिंग के लिए एनडीटीवी ग्रुप की कंपनी एनडीटीवी वर्ल्ड वाइड से कांट्रैक्ट हो चुका है. इस चैनल में मध्य स्तर और निचले स्तर के पदों पर भर्ती के लिए जल्द ही विज्ञापन का प्रकाशन किए जाने की संभावना है.

फेसबुक पर नेटवर्क10 के हेड बसंत निगम ने नए चैनल का लाइसेंस मिल जाने संबंधी सूचना दी है, जिसके बाद उन्हें बधाइयों का तांता लग गया है. इस अपडेट को देखने के लिए यहां क्लिक कर सकते हैं- नए चैनल का लाइसेंस... बसंत निगम के फेसबुक प्रोफाइल पर जाने के लिए इस लिंक पर क्लिक कर सकते हैं- फेसबुक पर बसंत


AddThis