ए2जेड के वाइस प्रेसीडेंट ने हजारों रुपये हड़पे

E-mail Print PDF

मनमीत: विज्ञापन के नाम पर लिए थे रुपये : सीईओ ने कहा चैनल का हिस्‍सा नहीं है मनमीत : हौजखास थाने में हुआ समझौता : ए2जेड के न्‍यूज चैनल में मार्केटिंग विभाग में वाइस प्रेसीडेंट के पद पर कार्यरत मनमीत सिंह ने दीपक कुमार नामक व्‍यक्ति का पन्‍द्रह हजार रुपये हड़प लिया है. दीपक ने इसकी शिकायत दिल्‍ली के हौजखास थाने में की थी. जहां दोनों पक्षों में सुलहनामा हो गया. इस दौरान ए2जेड के सीईओ वेद शर्मा भी मौजूद रहे.

दीपक ने बताया कि मनमीत से उसकी मुलाकात जनवरी के अंतिम सप्‍ताह में हुई थी. चैनल पर एक विज्ञापन चलाने की कीमत मनमीत ने 70 हजार रुपये बताया था. विज्ञापन चलाने के लिए उसने 15 हजार रुपये एडवांस की मांग की. जिसके बाद एक फरवरी को वह मुझसे 15 हजार रुपये ले गया कार्ड तथा उसकी रिसीविंग अपने विजिटिंग कार्ड पर दे दी. उसने मुझे आश्‍वासन दिया कि होली बाद आपका विज्ञापन लगा दिया जाएगा. मैं इसके बाद निश्चिंत हो गया. इसी बीच मनमीत ने मुझे कुछ दिन पहले फिर कॉल किया तथा बोला कि मेरी मां का तबीयत खराब है. वह बीएचयू में भर्ती हैं तथा मुझे 15 हजार रुपये की सख्‍त जरूरत है. उसने मुझे एसएमएस भी किया. मुझे उस पर शक हुआ कि इतने बड़े चैनल का वाइस प्रेसिडेंट होकर 15 हजार की मांग कैसे कर सकता है.

इसके बाद मैं ए2जेड चैनल के नम्‍बर पर फोन किया तो यहां से पता चला कि ऑफिस में कई लोगों का भी पैसा लेकर मनमीत फरार हो चुका है. उसके बाद मैंने विजय कपूर से बात की. उन्‍होंने भी उसे फ्राड बताया. इसके बाद उन्‍होंने मुझे कंपनी के सीईओ वेद प्रकाश शर्मा से बात करने को कहा. मैंने जब यह बात शर्माजी को बताई तो उन्‍होंने भी मनजीत की शिकायत की. इसके बाद मनजीत मुझे बार बार फोन करने लगा. उसने कहा कि आपको कई कॉल किया है मैं अब अपनी मम्‍मी के बिना जिंदा नहीं रह सकता. मर जाउंगा. काल रजिस्‍टर में आपका नम्‍बर है आप फंस जाओगे. तुम्‍हें पता है मैं मीडिया से हूं, आपके पास ऑन लाइन सुविधा है आप एसबीआई में गोपी कृष्‍ण सहाय के एकाउंट नम्‍बर 20037875187 में वो पैसे स्‍थानांतरिक करा दें.

मुझे वो बार बार पेरशान कर रहा था, जिसके बाद मैंने ऑन लाइन ट्रांसफर कर दिया. उसने मुझे बताया कि उसे अभी पैसे नहीं मिले हैं. मैंने बताया कि अकाउंट में तकनीकी खराबी है इसलिए पैसा नहीं ट्रांसफर हो पा रहा है. आप रिलायंस दफ्तर आ जाओं आपको पैसे मिल जाएंगे. वो खुद न आकर अपने ड्राइवर को भेजा. उसके बाद मैंने पुलिस को उसी समय इनफार्म कर दिया. ड्राइवर ने मनमीत को बुलाया और और हमलोग हौजखास थाने गए. वहां उसने अपनी गलती स्‍वीकारी तथा बताया कि उसकी मां बिल्‍कुल ठीक है. और आपके दिए पैसे मैंने कंपनी को भी नहीं दिए हैं. इसे आपको एक हफ्ते में दे दूंगा. हालांकि मैंने उसके करियर को देखते हुए मुकदमा दर्ज नहीं कराया, बल्कि समझौता कर लिया.

इस संदर्भ में पूछे जाने पर मनमीत ने बताया कि उसने पहले दीपक से पैसे नहीं लिए थे. इस बार उसे जरूरत थी इसलिए वो पैसे कंपनी के लिए नहीं बल्कि खुद के लिए उधार मांग रहा था. विजिटिंग कार्ड पर रिसिविंग देने के बारे में उसने बताया कि मैंने गलती से विश्‍वास करते हुए दे दिया. अभी मैं ए2जेड में ही कार्यरत हूं.

वहीं ए2जेड के सीईओ वेद शर्मा ने बताया कि मनमीत को चैनल से काफी पहले निकाल दिया गया था. वह पिछले पंद्रह-बीस दिनों से ऑफिस नहीं आ रहा था. उसकी काफी शिकायतें मिली थीं जिसके बाद मैंने उसे निकाल दिया गया था.


AddThis
Comments (20)Add Comment
...
written by pushkal, May 27, 2011
यशंवंत जी मेरा कहना ये है कि veer chauhan !
jaise log media me hai kyo !
is tarh ke gnde cumments ek news chennal ke liye krna achhi bat nahi hai ! yese log murko/gadho ki sreni me aate hai ! धन्यवाद
...
written by rajanchauhan, May 04, 2011
A2Z channal me hmesa yhi hota hai kanpur ka bhi yhi hal hua hai
...
written by raj, March 17, 2011
ur zo A2Z balo ne frencise ke nam pr lakho rs. khh liye hi vo neeraj choudha ajj ve A2Z balo ke nam pr roo rha hi jabalpur me ur ussne to court karavahi ve shuru kr de hi ,inn sab salo ke chehre se nakab uttna chaiye.................
...
written by veer chauhan, March 07, 2011
दीपक कुमार जी मेरा नाम है वीर चौहान मेरा ईमेल आईडी है [email protected] मेरा पता है A-262 असफ अली रोड नई दिल्ली दफ्तर का पता है a-25 mohan corprative mathura road new delhi CSR exporters इस छोटी सी कंपनी का मैनेजिंग डायरेक्टर हूं मैं अब आप अपने बारे में भी बताएं
...
written by Sandy, March 06, 2011
यशवंत जी, आपसे ये उम्मीद तो नहीं थी....आप बातें करते हैं स्वच्छ पत्रकारिता की और ऐसे कमेंट्स को भी पास कर देते हैं जो किसी एंकर की इज्ज़त पर कीचड़ उछाले..यहां किसी रंजीत का दिया हुआ कमेंट पढ़िये। ए2ज़ेड बेशक एक न्यूज़ चैनल की तरह काम नहीं कर पा रहा हो लेकिन ये यहां के स्टाफ के हाथ में है या मालिकों के आप भी जानते होंगे। इन बेहुदा कमेंट्स और आए दिन छापी जाने वाली स्टोरीज़ से आप ना सिर्फ कई पत्रकारों के करियर पर कीचड़ उछाल रहे हैं बल्कि घर बैठे-बैठे उनकी काबिलियत पर भी सवाल उठा रहे हैं। मत भूलिए कि आपकी साइट की लोकप्रियता भी इन्हीं पत्रकारों की देन है। उस दिन को मत आने दीजिए जब इनकी भड़ास आपके भड़ास पर निकलने लगे।
...
written by Deepak Kumar, March 06, 2011
manjeet jaise logo ki kahani is website par bhi maine dal diya hain......

www.ms420.coursehost.com

to aise logo ko kya chhor diya jaen..........
...
written by Deepak Kumar, March 06, 2011
Veer chauhan jee ap apane lekhani se lagte hain ap kaphi padhe likhe hain lekin ap sirf literate hain ,kanun sabhi ke liye barabar hota hain ,koi kisi se kam nahi hota hai , so pls kisi ke liye tuche word use nahi karie yah word use karke pata nahi ap apane ap ko kya sabit karna chate hain agar ap aise word use kiye hain to ap pana mujhe e mail ID Forward kar dijie main apko apne bare me jarur bataunga.......phir ap ispar comment karienga. my e mail id:- [email protected] pata hona chahie ki aise log ke karan hi media par vishwas khatam hote ja raha hain...........
...
written by veer chauhan, March 05, 2011
यशंवंत जी मेरा कहना ये है कि इस तरह के टुच्चे चैनल और टुच्चे लोगों की टुच्चता भरी खबरें भड़ास जैसे मंच पर ना छापें तो बेहतर होगा कौन मनमीत कौन शर्मा और कौन दीपक चुनिंदा लोगों के अलावा इन सभी टुच्चों को कोई नहीं जानता. विचार कीजिएगा धन्यवाद
...
written by Manmeet, March 05, 2011
Hi Friends! I am seeing comments and counter comments.I will come up with valid story which will blast everyones mind.Wait for the final words of mind.Pl wait.
...
written by piyush Ranchi, March 04, 2011
darie nahi ham sabhi sath hain apki ijajat ho to A to Z channel me ghus kar hamlog isko thokate hain 15,000 ke badle hospital ko 15,00000ko dega nahi to apani bahan ko dega...........manmeet hako.mile agale bar to pahle marie usake bad dekha jaega
...
written by Lalita, March 04, 2011
i was surprised , isaka no lag gaya jis din na main itana gali dungi ki aise hi mar jaega Manmeet badmij kahi ka................besharm.
...
written by Deb Mukherjee , March 04, 2011
hi..... Deepak main jab suna aisi harkate to really i was surprised, ap jaise insan ke emotion se ise khelane ki himat kaise ho gaya agar e paise nahi deta hain to isake aur director ke upar FIR kar dijie ham sabhi sath hain....
God bless u.
...
written by urwashi, March 04, 2011
kya deepak apne use chhor diya jalsaj ko , pise na de to Press conference karo ,Court me apply karo aur director ko bhi nahi chhoro..................
pata chalna chaie ki kya aukat hoti hain achhe insan ki..........god bless u.
...
written by Sangita, March 04, 2011
Deepak apane galti kar di apko ,Manjeet ke sath Usake CEO Sharma jee
ko bhi andar karna chahie tha .......ye log paise markett se uthane ke liye hi aise fraud insan ko rakhate hain............

Sangita
...
written by kamlesh , March 04, 2011
isame to lagata hain ki company ki bhi mili bhagat hain ,Aj kaise sharma jee bol rahe hain 20 din pahle chhor diya hain , apology letter par saf dekha jae to manjeet ne likha hain main A to Z ka employee is par sharma jee signature karte hai ,02/03/2011 tak company ke mobile se phone kiya hain, sharma jee jab e nahi a raha tha to isake mobile aur e-mail ko bnd kyon nahi kiya jarur lgta hain apaki mili bhagat hain kahi cow dudh dena to band nahi kar diya tha..............................
...
written by asshish HT, March 04, 2011
Tum manjeet kabhi apane ap ko maph nahi kar paunge, tumahe nahi pata
hain Deepak Kumar ke bare me, is sanjan ke emotion ke sath tum khele ho bhagwan tumahe kabhi nahi maph karenga ,isane logo ko career banana sikha hain bigarana nahi...........aise insan tumahe nhi milenga hamlog ise dekh chuke hain...............kisi ke career ke liye kya karta hain.

Khair abhi bhi samay hain apane ap ko sudhar lo............
...
written by Mukul Khanna, March 03, 2011
Aaj kal log apni position aur media ka khub roab jar rahe hai. Log apne aap ko sabse uppar samajh ne lagte hai.

Kucch din pehle Total TV ke accountant ne waha ki receptionist ko cheeda aur apni position ka fayada utha kar khud baach gaya aur us masum ladki ho job se haath dona para.

Yaha mamla A2Z mein kuch alag hai,log apni position ka galat istemal karke kucch bhi kar sakte hai. jaise ki Deepak ji ke saath hua ki 15,000 ki chapat laga li aur kuch kiya nahi.
...
written by Prashant Kumar, March 03, 2011
are batmeej manjeet tumahe pata bhi nahi hain ma kya chis hoti hain ,tumane ma ko bhi bech dala aise media ke logo ko media ke bich me lakar sidhe goli mar dena chahie, bol nahi sakata tha ladki ke sath rat ko sona hain , aur wo sone ke liye paise mangti hain jo ki mere pas nahi hain ..........................aise mangata ya G.B Road chala jata , tumane to manavata hi sharm kar diya...............................................................chulu bahr pani me bhi tum nahi mar sakte ho.Tumahe nahi pata hain log kaise mehnat se paise earn karte hain aur tum aisi karte ho

Prashant Kumar
...
written by देवेश वशिष्ठ, March 03, 2011
यशवंत जी, ये सिर्फ आधी जानकारी है.. अब पूरी बात सुन लीजिए। मनमीत नाम के इस धोखेबाज ने सिर्फ इन महोदय के साथ ही ऐसा नहीं किया। इसने मेरे साथ एटूजेड के भी कई व्यक्तियों के साथ ऐसा किया और इसी तरह के बहाने देकर उधार पैसे लिये। जब मुझे इसके बाकी कारनामों का पता चला तो मैंने अपने पैसे वापस लेने के लिए इस पर दवाब बनाया। ये महाशय ऐसे तमाम लोगों से उधार पैसा लेकर करोल बाग के एक होटल में आराम फरमा रहे थे। जब मैं रात को अपने पैसों के लिए मैंने इन्हें इनके होटल में दबोचा तो इन्होंने नई कहानी बनाई और किसी व्यक्ति को फोन करके कहा कि मैं अभी पैसे दे देता हूं, पर आपको साउथ एक्स चलना होगा। उसके बाद ये मुझे साउथ एक्स लेकर गया। वहां पता चला कि जिससे उसने मुझे देने के लिए पैसे मांगे थे उसने पैसे देने से इंकार कर दिया। कुछ देर बाद इसने मुझसे कहा कि अगर मुझे कोई एचडीएफसी या स्टेट बैंक का एकाउंट नंबर दे दिया जाए तो मैं अभी मनी ट्रांसफर करवा दूंगा। मेरे पास इन दोनों बैंकों का ही एकाउंट नहीं था इसलिए मैंने इसकी बात पर यकीन करके मेरे बड़े भाई श्री गोपीकृष्ण जी का स्टेट बैंक का एकाउंट नं. इसे दे दिया। इसने किसी को कहा कि उस एकाउंट में पैसे डाल दें। और मुझे बताया कि सुबह तक पैसे ट्रांसफर हो जाएंगे। हालांकि जैसा उम्मीद थी सुबह भी एकाउंट में कोई पैसा ट्रांसफर नहीं हुआ।
यशवंत जी, यहां मैं ये कहना चाहता हूं कि इस पूरे मसले में चूंकि श्री गोपीकृष्ण जी का कोई रोल नहीं है, इसलिए इस बात को साफ किया जाए और मनमीत सिंह जैसे धोखेबाजों से लोगों को सावधान किया जाए।
धन्यवाद।
आपका

देवेश वशिष्ठ
...
written by Paya Mandal , March 03, 2011
sabash Deepak koi to mila jo in logo ko sabak sikhaya.pata nahi log media se kyoun darate hain aj logo ko jarur pata laga hoga agar tum sache ho to kisi se darne ki jarurat nahi hai...........................aise media walo ke sath agar hona suru ho jae to sachae phir se suru ho jaenga.

Payal mandal

Write comment

busy