ये खबर सही है तो टीवी वालों को पीएम को दौड़ा लेना चाहिए

E-mail Print PDF

हिंदुस्तान अखबार में अंदर के पेज पर निर्मल पाठक की लिखी एक स्टोरी छपी है. इसमें उन्होंने बताया है कि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह टीवी जर्नलिस्टों से बहुत नाराज हैं और इसी कारण वे अपनी विदेश यात्रा में टीवी वालों को नहीं ले जाएंगे. यह स्टोरी चौंकाती है. क्या पीएम उन्हीं को ले जाएंगे जो उन्हें सूट करते हैं. जो उनको सुरक्षित करते हुए लिखते हैं. टीवी वालों से उनकी नाराजगी की वजह क्या है. क्या टीवी वालों ने घपलों-घोटालों को दिखा दिया तो यह गलत काम कर दिया.

कुल मिलाकर अगर ये स्टोरी सच है तो टीवी वालों को मनमोहन की खबर लेनी चाहिए. आखिर कैसे कोई पीएम ऐसा कर सकता है. क्या कांग्रेस फिर से इस देश में आपातकाल की तैयारी कर रही है? तभी तो जो उनके हिसाब से नहीं बोलता, उन्हें नष्ट करने, उन्हें साइडलाइन करने की तैयारी चल रही है. और ऐसा केंद्र में ही नहीं, बिहार-यूपी-उत्तराखंड समेत कई राज्यों में भिन्न-भिन्न सरकारें भी यही काम कर रही हैं. सत्ता को खुद के चरणों में लोटने वाला मीडिया ही क्यों पसंद है. इन सभी मुद्दों पर टीवी वालों को बहस की शुरुआत करनी चाहिए अन्यथा आज वे चुप रहेंगे तो कल उनकी मौत पर कोई कंधा देने भी नहीं आएगा. हिंदुस्तान में प्रकाशित पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें- टीवी पत्रकार नहीं जाएंगे प्रधानमंत्री के साथ चीन


AddThis