पटना में रंगरेलियां मनाते पकड़ा गया 'हिंदुस्‍तानी'

E-mail Print PDF

'एक ही उल्लू काफी है बरबाद गुलिस्ता करने को जहां हर साख पर उल्लू बैठा हो तो अंजामें गुलिस्ता क्या होगा।'  यह वाक्य पटना हिन्दुस्तान पर बिल्कुल फिट बैठता दिखायी पड रहा है। पूर्व से ही कई कारणों को लेकर चर्चा में आया पटना हिन्दुस्तान की शनिवार को देर रात तब और भद्द पिट गई जब हिन्दुस्तान में काम करने वाले सज्जन राजधानी पटना के एक रेस्टोरेंट में बार बालाओं के साथ रंगरेलिया मनाते पटना पुलिस द्वारा दबोच लिए गए।

हद तो तब हो गई जब पुलिस द्वारा रंगे हाथ पकडे गए इस हिन्दुस्तानी को छुड़ाने के लिए हिन्दुस्तान की पूरी टीम लग गई पर पटना के एसएसपी आलोक कुमार और सिटी एसपी शिवदीप लांडे ने 'हिन्दुस्तान'  को उसकी औकात बताते हुए गिरफ्तार 'हिन्दुस्तानी' प्रशांत खरे को हवालात का रास्ता दिखा दिया। पटना पुलिस को यह खबर मिली थी की राजधानी में स्थित मिर्ची कोला नामक एक रेस्टूरेंट में देर रात रंगरेलियां मनायी जाती हैं, जिसमें कई सफेदपोश भी शामिल रहते हैं। इसी सूचना के बाद पुलिस ने शनिवार की देर रात इस रेस्टूरेंट में छापेमारी की जहां हिन्दुस्तान मीडिया मार्केटिंग में प्रबंधक के पद पर कार्यरत प्रशांत खरे बार बालाओं के साथ रंगरेलियां मनाते पकडे़ गए। इनके अतिरिक्‍त पुलिस चार बार बालाओं और ग्‍यारह अन्‍य लोगों को भ मौके से पकड़ा।


AddThis