आईबीएन7 टीम पर हमला के विरोध में पत्रकारों ने निकाला जुलूस

E-mail Print PDF

आईबीएन7 पर हुए हमले के विरोध में आज लखनऊ में पत्रकारों ने सड़कों पर जुलूस निकाला। पत्रकारों ने काली पट्टी बांध कर प्रदर्शन किया। भारी संख्या में पत्रकारों ने प्रेस क्लब से लेकर गांधीजी की प्रतिमा तक मौन जुलूस निकाला।गौरतलब है कि राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने इस मामले में उत्तर प्रदेश सरकार को नोटिस जारी किया है।

शिकायत में कथित रूप से कहा गया कि उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी की मौत संदिग्ध बताए जाने पर राज्य पुलिस ने एक टेलीविजन पत्रकार को उठा लिया। मानवाधिकार आयोग ने इस मामले में स्वत: संज्ञान लिया। समाचार चैनल आईबीएन 7 की रिपोर्ट में कहा गया कि उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी वाई.एस. सचान खुद अपने को चोट नहीं पहुंचा सकते थे। इसके बाद पुलिस कर्मियों ने समाचार चैनल के ब्यूरो प्रमुख को उठा लिया।

इसे मानवाधिकारों के उल्लंघन का मामला बताते हुए आयोग ने इस मामले में राज्य सरकार से एक सप्ताह के भीतर एक विस्तृत रिपोर्ट की मांग की है। आयोग ने राज्य के पुलिस महानिदेशक को भी नोटिस जारी किया है। लखनऊ जेल में न्यायिक हिरासत के दौरान सचान की मौत होने पर आयोग उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव, लखनऊ के जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को भी नोटिस जारी कर चुका है। साभार : आईबीएन खबर


AddThis