बीपीएन और इसके मालिक बघेल को भड़ास ने क्यों बख्श दिया?

E-mail Print PDF

संपादक, भड़ास4मीडिया, महोदय, आपके पोर्टल पर कई चिटफंड कंपनियों के नाम, उनकी करतूत और उनके खिलाफ हो रही कानूनी व प्रशासनिक कार्यवाहियों की खबर छपी है पर आपने न जाने क्यों बीपीएन का नाम गोल कर दिया. सही कहा जाए तो मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा चिटफंड माफिया यह बीपीएन वाला ही है. इसके मालिक का नाम है वकील सिंह बघेल. इसकी कंपनी बीपीएन एलायड और बीपीएन रीयल इस्टेट पर भी मुकदमें दर्ज हैं.

इसके मालिक बघेल पर दो हजार रुपये का इनाम पुलिस ने घोषित कर रखा है. पुलिस की पकड़ से बचने के लिए यह आदमी फरार हो चुका है. यह शख्स मसाले और रीयल इस्टेट के नाम पर लोगों के पैसे अपने यहां निवेश कराता है. यह बीपीएन आटा, बीपीएल मसाले, बीपीएल सूजी, बीपीएल चोकर आदि बेचता है. यह ग्वालियर, इंदौर, झांसी में लोगों का करोड़ो रुपये का चूना लगा चुका है. अगर यह सचमुच सही व्यक्ति है तो इसके अखबार बीपीएन टाइम्स के 9 एडिशन की आर्थिक जांच करा लें. इससे पता चल जाएगा कि इसने केवल तीन साल में नौ एडिशन कैसे खोल लिए और उनका मंथली पेमेंट कहां से पैसा लाकर करता है. इस लेटर एक साथ एक कटिंग भी संलग्न है, अनुरोध करूंगा कि उसे भी प्रकाशित कर दें.

आपका

अभिषेक

ग्वालियर

चिटफंडियों को अदालत ने भी मारा चाबुक... होगी इनकी सीबीआई जांच.. खबर पढ़ने के लिए नीचे प्रकाशित खबर पर क्लिक कर दें...


AddThis