पत्रकार अकरम हत्‍याकांड : मुख्‍य आरोपी आसिफ गिरफ्तार

E-mail Print PDF

नॉर्थ-ईस्ट उत्‍तर-पूर्व दिल्ली के जाफराबाद थाने से कुछ ही दूरी पर बीते 5 अगस्त को ईटीवी उर्दू के पत्रकार अकरम लतीफ की गोली मारकर हत्‍या कर दी गई थी। इस मामले में पुलिस ने पहले ही छह आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था, परन्‍तु इस हत्‍या को अंजाम देने वाला मुख्‍य आरोपी आसिफ अली उर्फ लंबू (27 वर्ष) पुलिस पकड़ से बाहर था। सोमवार को पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर आसिफ को भी गिरफ्तार कर लिया, उसके पास से एक जिंदा कारतूस और देसी कट्टा मिला है।

पुलिस ने बताया कि आसिफ को एक सूचना के बाद जाफराबाद इलाके से पकड़ा गया। वह दरियागंज का रहने वाला है। पुलिस ने बताया कि आसिफ ही हत्‍याकांड का मुख्‍य आरोपी था। गौरतलब है कि यूपी के अमरोहा के रहने वाले ईटीवी उर्दू के पत्रकार अकरम लतीफ 5 अगस्‍त को किसी काम से दिल्‍ली आए हुए थे, वेलकम थाना क्षेत्र के जाफराबाद में अज्ञात बदमाशों ने उनकी गोली मारकर हत्‍या कर दी थी। पुलिस ने इस मामले में पहले ही छह लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है, जबकि मास्‍टर माइंड आसिफ फरार था।

पुलिस ने बताया कि यह हत्‍या पत्रकार के पास पैसा होने के भ्रम में की गई। पुलिस के अनुसार अकरम जब अमरोहा से बस में आ रहे थे तो फोन पर वह किसी से लाखों रुपये की बात कर रहे थे। उस दिन बस में आसिफ उर्फ मुल्ला के साथ कई अन्य बदमाश भी सफर कर रहे थे। उन्होंने फोन पर लाखों रुपये की बातें सुनी थी। अकरम के पास मोटी रकम होने के संदेह में इन बदमाशों ने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर जाफराबाद थाने के पास अकरम को गोली मार दी थी तथा उनका बैग लेकर फरार हो गए थे। अकरम को जीटीबी अस्‍पताल पहुंचाया गया परन्‍तु उनकी मौत हो गई।


AddThis