प्रेस लिखी गाड़ी से मिले साढ़े तीन करोड़ रुपये

E-mail Print PDF

पंजाब पुलिस ने प्रेस लिखी एक गाड़ी से तीन करोड़, 47 लाख और 25 हजार रुपये की राशि बरामद की है। इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में लिया है। तीनों पूना के हैं। इनके नाम साहिल, राजकुमार और राहुल हैं। एसपी मनमोहन शर्मा ने बताया कि पुलिस ने यह राशि आयकर विभाग को सौंप दी है। बताया जाता है कि जीटी रोड पर लगाए नाके के दौरान ने फार्च्यून गाड़ी को रोका गया। गाड़ी के शीशे पर प्रेस लिखा हुआ था।

तलाशी में गाड़ी से हजार, पांच सौ और सौ के बंडलों में 3 करोड़ 47 लाख, 25 हजार रुपए बरामद किए गए। पुलिस ने गाड़ी में सवार तीन लोगों से इस रकम के बारे में पूछा तो वे कोई संतोषजनक जवाब और कोई दस्तावेज पेश नहीं कर पाए। गाड़ी में सवार एक युवक संजय जगताप ने खुद को पत्रकार बताया। उसके पास से ''प्रजा विचार'', शिवाजी नगर, पूना का आईकार्ड बरामद किया।

गाड़ी पर सवार लोगों ने बताया कि वे पूना की समरूद जीवन फूड एग्रो कंपनी के कर्मचारी हैं। यह रकम भी कंपनी की है। कंपनी के सीएमडी महेश मोटेवाल ने यह रकम कंपनी के डायरेक्टर प्रसाद पारसवार को होशियारपुर में सौंपने के लिए भेजी थी। कंपनी को यहां जमीन खरीदनी है। एसपी ने बताया कि पुलिस ने कार्रवाई कर राशि आयकर विभाग को सौंप दी है।

आयकर विभाग की डिप्टी कमिश्नर रजिंदर कौर ने बताया कि विभाग को मिली जानकारी से पता चला है कि पूना की समरूद जीवन फूड एग्रो कंपनी के गुजरात व महाराष्ट्र में कई प्रोजेक्ट चल रहे हैं व कंपनी जमीन खरीद कर उन पर प्रोजेक्ट लगा रही है। उन्होंने बताया कि महाराष्ट्र के आयकर विभाग से संपर्क करके उक्त कंपनी व इस रकम के बारे में जानकारी मांगी जा रही है। अगर रकम संबंधी दस्तावेज नहीं मिले तो जांच में इंफोर्समेंट विंग को शामिल किया जा सकता है। इस रकम के काला धन होने पर 35 फीसदी टैक्स के साथ तीन सौ फीसदी जुर्माना लगाया जा सकता है।


AddThis