भड़ास4मीडिया के प्रदेश-देश-विदेश की खबरों के नए पोर्टल का ट्रायल शुरू

E-mail Print PDF

कठिन मेहनत व पक्के इरादे के साथ दूरदृष्टि जरूरी है. सो, मंजिल पाने के लिए समय संग बदलते रहना और अपग्रेड होते रहना चाहिए. इसी कारण कभी सिर्फ पांच हजार रुपये में साल भर के लिए शुरू हुए bhadas4media.com ने बहुत पाया और बदला है. एक और बदलाव सामने है. यह है भड़ास4मीडिया का देश-प्रदेश-विदेश की खबरों का नया पोर्टल. इसे ट्रायल के लिए आज से आनलाइन कर दिया गया है.

नाम www.news.bhadas4media.com है. भड़ास की यात्रा बहुत पुरानी नहीं है. करीब चार वर्षों में ही भड़ास काफी बड़ा हो गया. पहले यह सिर्फ भड़ास ब्लाग www.bhadas.blogspot.com के रूप में शुरू हुआ. आज यह ब्लाग दुनिया का सबसे बड़ा हिंदी कम्युनिटी ब्लाग है. इस भड़ास ब्लाग में करीब 900 लोगों को बिना किसी के संपादन के डायरेक्ट अपनी रचना-सूचना को पोस्ट करने का अधिकार है. भड़ास ब्लाग जब शुरू हुआ तो बहुत सारे उतार-चढ़ाव आए. आरोप-प्रत्यारोप का दौर चला. मनमुटाव और खेमेबंदी हुई. ये खट्टे-मीठे अनुभव बड़े काम के साबित हुए. इन अनुभवों के सकारात्मक पक्ष को ग्रहण कर व्यवस्थित रूप से मीडिया केंद्रित खबरों का पोर्टल bhadas4media.com शुरू किया गया. लेखों-विश्लेषणों की अत्यधिक आवक को देखते हुए अलग पोर्टल www.vichar.bhadas4media.com नाम से लांच किया गया. आडियो-वीडियो फाइलों के आने और उन्हें अपलोड करने की जरूरत व मजबूरी ने आडियो-वीडियो के लिए अलग पोर्टल www.mediamusic.bhadas4media.com नाम से शुरू करने को प्रेरित किया. इस सबके बाद अब लगने लगा कि मेनस्ट्रीम न्यूज का एक पोर्टल होना चाहिए. तब जनरल न्यूज के लिए एक पोर्टल शुरू करने का इरादा किया गया और अब इसे मूर्त रूप दिया जा रहा है. इस नए पोर्टल तक पहुंचने के लिए www.news.bhadas4media.com पर क्लिक कर सकते हैं.

इस नए पोर्टल में देश-प्रदेश और विदेश की खबरें होंगी. वे खबरें जो अखबारों में अगले दिन प्रकाशित होती हैं. कोशिश होगी कि इस पोर्टल में ऐसी खबरें दी जाएं जो बेहद महत्वपूर्ण हों. मीडिया से संबंधित खबरों के पोर्टल www.bhadas4media.com पर मीडिया से संबंधित खबरें ही रहें, इसलिए भी जनरल न्यूज के लिए अलग पोर्टल की जरूरत महसूस हुई. भड़ास से लोगों की बढ़ती उम्मीदों ने भी जनरल न्यूज के पोर्टल को लांच करने की सीख दी. इसी कारण अबसे ऐसी खबरें जो जिला-प्रदेश-देश-विदेश के महत्व की हैं, भड़ास4मीडिया के न्यूज पोर्टल www.news.bhadas4media.com पर प्रकाशित की जाएंगी.

इस न्यूज पोर्टल पर प्रकाशित खबरों के शीर्षक www.bhadas4media.com के होम पेज पर उसी तरह दिखाई देने लगे हैं जैसे www.vichar.bhadas4media.com पर प्रकाशित आलेखों-विश्लेषणों-रचनाओं के शीर्षक और www.mediamusic.bhadas4media.com पर अपलोड वीडियो के शीर्षक मुख्य पोर्टल भड़ास4मीडिया के होम पेज पर दिखाई देते हैं. जनरल न्यूज पोर्टल के शुरू हो जाने से भड़ास के पाठकों को अपनी पसंद की खबरों, आलेखों, म्यूजिक, वीडियो को देखने पढ़ने में आसानी होगी. जो पाठक जिस तरह की खबर पढ़ना चाहेगा, उसे अपनी प्रियारिटी की खबरें ढूंढने में मदद मिलेगी. साथ ही इस नए पोर्टल के जरिए हम देश-विदेश की मेनस्ट्रीम न्यूज को भी नेट के पाठकों तक पहुंचा सकेंगे.

इस पोर्टल को बनाने-सजाने और संवारने में भड़ास4मीडिया के तकनीकी हेड राकेश डुमरा का अमूल्य योगदान है. उनकी कोशिशों के चलते ही यह पोर्टल जूमला के लैटेस्ट अविष्कार से लैस है और ढेर सारे नए फीचर्स से युक्त है जिसका समय आने पर इस्तेमाल किया जाएगा. यह नेशनल-इंटरनेशनल न्यूज पोर्टल अभी ट्रायल के दौर में है. इसमें टेस्ट के बतौर डाली गईं और प्रकाशित की गईं खबरें अभी दूसरे न्यूज पोर्टलों व न्यूज एजेंसियों से चुराई हुई हैं. जल्द ही भड़ास के तेवर के अनुरूप इसमें ओरीजनल कंटेंट और खबरें दिखाई देंगी. इस पोर्टल को समृद्ध बनाने के लिए आपके सुझावों का जरूरत है.

जल्द ही भड़ास टीवी भी लांच करेंगे हम लोग. तब भड़ास के गुलदस्ते में मीडिया न्यूज पोर्टल, नेशनल-इंटरनेशनल न्यूज पोर्टल, विश्लेषण व विचार पोर्टल और आडियो-वीडियो पोर्टल के अलावा आनलाइन टीवी का चैनल भी होगा. इसके बाद देश भर में जिले स्तर पर भड़ास संवाददाताओं की नियुक्ति की प्रक्रिया प्रारंभ की जाएगी जो भड़ास के मीडिया न्यूज, लोकल न्यूज, स्टेट न्यूज, नेशनल न्यूज, आडियो, वीडियो और टीवी न्यूज के लिए एक साथ काम करेंगे. और यह नियुक्ति भी नये प्रकार की होगी जिसमें कोई किसी का नौकर नहीं होगा बल्कि सहकारिता (कोआपरेटिव) दर्शन के आधार पर हर जिले का भड़ास से जुड़ा पत्रकार या ब्यूरो चीफ अपने जिले के लिए भड़ास का डायरेक्टर / मालिक होगा और उस जिले की खबरों के लिए अलग से बनाए गए भड़ास लोकल न्यूज पोर्टल का संचालक होगा. ऐसे होनहार, प्रतिभावान और उद्यमी प्रकृति के पत्रकारों की बहुत जल्द भड़ास को जरूरत होगी. तब देश भर में भड़ास ब्रांड का डंका बजेगा और वेब मीडिया में भड़ास सबसे बड़ा ब्रांड बनेगा.

भड़ास की इस यात्रा में मुश्किलें बहुत आई हैं और अभी भी आ रही है. पर इससे हम लोगों के इरादे पर कोई असर नहीं है. किसी भी नए काम की शुरुआत में खून-पसीना बहुत जलता है, कई बार मन निराश होता है, कई बार अभाव आत्मा को तोड़ते हुए से लगते हैं, लेकिन अंततः नैराश्व पर जीतने व जीने की जिजीविषा भारी पड़ती है.

नेताओं-नौकरशाहों और कारपोरेट घरानों के हाथों बिक चुके बड़े मीडिया हाउसों के समानांतर जनता का मीडिया हाउस खड़ा करने की हम लोगों की जिद आज भी उतनी ही जवान है जितनी भड़ास ब्लाग के शुरुवात के वक्त थी. आर्थिक थपेड़ों से जूझते हुए, संसाधनों की कमी से जूझते हुए, चरम-परम बाजारू माहौल में लोभों-प्रलोभनों से बचते हुए हम लोगों का निरंतर बढ़ते जाना इस देश के करोड़ों जनों और हजारों ईमानदार पत्रकारों के लिए एक आंख खोलने वाली परिघटना है. उम्मीद है इस नए प्रयोग और बुलंद इरादों का आप लोग हमेशा की तरह स्वागत करेंगे और अपने सुझावों-संदेशों से हम लोगों को समृद्ध करेंगे.

यशवंत

संपादक
भड़ास4मीडिया
This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it


AddThis