हिंदी साहित्‍य के विद्यार्थियों के लिए लांच हुआ पोर्टल हिंदी ई-पुस्‍कालय

E-mail Print PDF

हिन्दी साहित्य में उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे विद्यार्थियों की सहायता के लिए एक उपयोगी शैक्षणिक वेबसाइट www.hindiepustakalaya.com लांच की गयी है। इस वेबसाइट को अभी डेवलप करने का काम जारी है। इस वेबसाइट में पूरे देश के विश्वविद्यालयों में पढ़ाये जाने वाले हिन्दी साहित्य के पाठ्यक्रम तथा उससे संबंधित तमाम जानकारियां एवं पाठ्य सामग्रियां संग्रहित हैं।

हिन्दी प्रेमी और हिन्दी साहित्य के विद्यार्थी व शिक्षक इस साइट में जाकर अपनी जिज्ञासा सहज ही शांत कर सकेंगे। भारत में आज हिन्दी भाषा के प्रचार प्रसार तथा विदेशी भाषाओं के प्रभाव से उसके अस्तित्व रक्षा हेतु हिन्दी प्रेमियों, सगठनों व संस्थाओं ने कई मुहिम छेड़ रखी हैं। इंटरनेट की दुनिया भी इससे अछूती नहीं हैं। कारण यह है कि आज किसी विचार, आंदोलन को व्यापक समूह वर्ग तक पहुंचाने का यह एक अत्यंत लोकप्रिय व सुलभ माध्यम है। जिससे न केवल राष्ट्रीय बल्कि अन्तरराष्ट्रीय मंच पर भी अपना पक्ष रखा जा सकता है। www.hindiepustakalaya.com इसी प्रेरणा और मंथन का परिणाम है। इस पोर्टल की संचालिका पत्रकार पापिया पाण्‍डेय हैं।


AddThis
Comments (8)Add Comment
...
written by AJAY CHOUDHARY, October 13, 2011
hindi ko samman dilane ki disha me ek mahatwapurn kranti hai..................................aapka karya aatyanta sarahaniya hai
...
written by AJAY CHOUDHARY, October 13, 2011
hindi ko samman dilane ki disha me ek mahatwapurna kranti hai...............aapka ka karya atyanata sarahaniya hai.
...
written by suman, July 05, 2011
hindi.indiancolleges.com

yahan bhi bahut kuch milega
...
written by yogeshwar singh, July 03, 2011
Hindi ko high tech hona bhut zaroori hai. lakin usse bhi zyada zaroori hai. use maan samman dena.Jiske liye lambi ladai ladni baki hai. Ye prayas us ladai main ahem bhumika nibhayega. Bdaiyaan
...
written by mangal, July 01, 2011
Enka Site Khulta hai kohl ke dekho to kyo bandnam kar rahi ho
...
written by Dev Shrimali gwalior, June 23, 2011
accha pryaas hai...badhayee
...
written by Pallav, June 22, 2011
Nahi Khulta.
...
written by anunad, June 22, 2011
महत्वपूर्ण कदम है. इसमे और सामग्री भरकर इसके उद्देश्य की पूर्ति की दिशा में शीघ्र कदम बढ़ने चाहिए.

Write comment

busy