नैतिक मूल्‍यों का ध्‍यान रखें ब्‍लॉगर : अरुणेन्‍द्र चंद्र त्रिपाठी

E-mail Print PDF

वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय, जौनपुर के जनसंचार विभाग द्वारा संकाय भवन में शुक्रवार को 'सामजिक सरोकार एवं ब्लॉगिंग' विषयक गोष्ठी का आयोजन किया गया. इसमें बतौर मुख्य वक्ता उत्तर प्रदेश विधानसभा के संपादक अरुणेन्द्र चन्द्र त्रिपाठी ने कहा कि आज ब्लॉगिंग पत्रकारिता का लघु रूप लेता जा रहा हैं. ऐसे में ब्लॉग लेखन से जुड़े लोगों की और भी जिम्मेदारी बढ़ जाती हैं.

उन्‍होंने कहा कि आज ब्लॉगरों को नैतिक मूल्यों को प्ररित करने वाले विषयों पर लेखन करना चाहिए. भारत एक विशाल देश हैं जिसमें सामाजिक मान्यताएं अपना एक अलग स्थान रखती हैं. त्वरित पत्रकारिता के समय में इन भावनाओं का सम्मान किया जाना चाहिए. कुलपति प्रो. सुन्दरलाल ने कहा कि आज मानवीय मूल्य तिरोहित होते जा रहे हैं. एक ऐसा दौर चल पड़ा है जहां रिश्ते नाते टूटने के कगार पर हैं ऐसे में इन्टरनेट के माध्यम से जो हम अपने भावनाओं को व्यक्त कर रहे हैं,  उनमें इन बिन्दुओं को ध्यान में रखना चाहिए. उन्होंने अपील कि मीडिया संस्थान में काम करते समय बहुत से दबावों का सामना करना होता हैं. ऐसी स्थिति में ईमानदारी का कभी साथ नहीं छोड़ना चाहिए. जो दिखे वही लिखें. छोटी छोटी बातें हमें प्रभावित करती हैं ऐसे में जनभावनाओं के अनुरूप कार्य करें.

डीन डॉ. अजय प्रताप सिंह ने कहा कि ब्लॉग लेखन आज बहुत तेजी से लोकप्रिय हो रहा हैं,  ऐसे में ये ध्यान देने वाली बात हैं कि हम क्या लिख रहे हैं. आज हमें ब्लॉग अपनी बात कहने के लिए शक्तिशाली माध्यम मिला हैं,  यदि हम इसका प्रयोग सामाजिक उत्थान के लिए तो उसका सार्थक होगा. प्रो. रामजी लाल ने कहा कि सामाजिक जिम्मेदारियों का निर्वहन करने के लिए ही विश्वविद्यालय ने अपने ब्लॉग का निर्माण किया हैं. इस पर समय समय पर सामाजिक प्रतिबद्धता से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की जाएगी. कार्यक्रम का संचालन डॉ. मनोज मिश्र एवं धन्यवाद ज्ञापन डॉ. अवध बिहारी सिंह ने किया. इस अवसर पर दिग्विजय सिंह राठौर, आनंद सिंह, पंकज सिंह, आशुतोष मिश्र, नेहा श्रीवास्तव, विवेक श्रीवास्तव समेत छात्र छात्राएं मौजूद रहे. प्रेस रिलीज


AddThis