खाप पंचायतों की पोल खोलने वाली खाप टीम 25 को आएगी चंडीगढ़

E-mail Print PDF

: 29 को रिलीज होगी फिल्‍म : झूठी शान के नाम पर की जाने वाली हत्या यानी ऑनर कीलिंग के मुद्दे को उठाने वाली फिल्म खाप बनकर तैयार हो चुकी है। यह फिल्म आगामी 29 जुलाई को रिलीज होगी। इस फिल्म में दिखाया गया है कि हरियाणा, राजस्थान और उत्तर प्रदेश के गांवों में खाप पंचायत किस प्रकार गौत्र में विवाह का विरोध करती हैं और इसका परिणाम नृशंस हत्याएं होती हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने भी इस मुद्दे पर रोष जताते हुए इसे राष्ट्र के लिए कलंक करार दिया हैं। फिल्म की रिलीज से पहले ही यह विवादों में आ गई है, क्योंकि इन राज्यों के किसी भी राजनीतिक दल का नेता इस फिल्म को देखने या फिर इस पर बात करने के लिए तैयार नहीं हैं,  क्योंकि उन्हें लगता है कि इससे उनके वोट बैंक पर असर पड़ेगा। इस फिल्म में युवा प्रेमी जोड़े की भूमिका सरताज गिल और युविका चौधरी ने अदा की है।

वहीं ओम पुरी भी प्रमुख भूमिका में हैं। वह गांव के सरपंच बने हैं। फिल्म में उनका किरदार ओमकार सिंह चौधरी का है। वह पूरी फिल्म में हरी पगड़ी पहने रहते हैं, जिससे उनका लुक इनेलो प्रमुख ओमप्रकाश चौटाला जैसा दिखता है। फिल्म के अन्य कलाकारों में गोविंद नामदेव, मनोज पाहवा, अनुराधा पटेल और मोहनीश बहल हैं।

इस फिल्म के जरिए बालीवुड की दुनिया में कदम रखने वाले सरताज गिल मूल रूप से अमृतसर के रहने वाले हैं। उन्होंने खाप पंचायतों पर निशाना साधा है। उनका कहना है कि किसी भी खाप पंचायत को प्यार करने वालों की जान लेने का अधिकार नहीं है। उनका कहना है कि यह खाप पंचायत पूर्ण रूप से गैर कानूनी हैं। बकौल सरताज झूठी शान के नाम पर युवाओं की हत्या अमानवीय है। यह फिल्म खाप परंपरा पर सवाल उठाती है। इसे एक गंभीर मुद्दे के रूप में दिखाया गया है। फिल्म का निर्देशन अजय सिन्हा ने किया है। इस फिल्म की पूरी टीम 25 जुलाई को चंडीगढ़ में मौजूद रहेगी।

 

महेंद्र सिंह राठौड़ की रिपोर्ट.


AddThis
Comments (0)Add Comment

Write comment

busy