याहू के बाद गूगल से भी जागरण का गठजोड़

E-mail Print PDF

हिंदी मीडिया घरानों में बिजनेस बुद्धि के मामले में अव्वल जागरण समूह ने याहू के बाद गूगल को भी खुद से जोड़ लिया है। डेढ़ साल पहले याहू को करोड़ों रुपये के ठेके पर अपनी हिंदी न्यूज साइट जागरण डॉट कॉम को सौंपने वाले जागरण समूह ने अब गूगल के साथ प्रिंट कंटेंट के आनलाइन डिजिटलाइजेशन और आर्काइव के लिए समझौता किया है। यह समझौता गूगल द्वारा शुरू किए गए ‘न्यूज आर्काइव पार्टनर प्रोग्राम’ के तहत किया गया है। इस प्रोग्राम के तहत दुनिया के कई अखबारों के प्रिंट संस्करण की पुरानी-नई खबरों-पेजों को वेब पर लाया जा रहा है। इसी प्रोग्राम के तहत गूगल और जागरण समूह के बीच समझौता हुआ है।

जागरण के पुराने अखबार, खबरें और इसी ग्रुप के टैबलायड आई-नेक्स्ट के संपूर्ण कंटेंट, पेजों का वेब आर्काइव गूगल के सौजन्य से तैयार किया जाएगा। जागरण समूह वेब की बढ़ती ताकत को देखते हुए अपने सभी प्रोडक्ट को वेब पर लाने की रणनीति बनाए हुए है। आई-नेक्स्ट, जोश, सखी, सिटी प्लस आदि पत्रिकाओं-अखबारों को वेब पर लाने के लिए जागरण समूह दूसरे बड़े ग्रुपों से रणनीतिक समझौते कर रहा है। इन समझौतों में बिजनेस माडल को वरीयता दी जा रही है ताकि वेब उपक्रम भी मुनाफे का सौदा बन सके।


AddThis