नाऊअमृतसर.कॉम यशवंत के हाथों लांच

E-mail Print PDF

हिंदी पट्टी के युवाओं - पत्रकारों में न्यू मीडिया के साथ जुड़ने की ललक तेज हुई है. आए दिन हिंदी वेबसाइटें लांच हो रही हैं. इसी कड़ी में रविवार को अमृतसर में नई न्यूज वेबसाइट नाऊअमृतसर डॉट कॉम को वरिष्ठ पत्रकार व भड़ास4मीडिया के संस्थापक-संपादक यशवंत ने लांच किया. अमृतसर के पत्रकार रघु राजा के निर्देशन में दानिश गौर ने यह साइट शुरू की है.

इस वेबसाइट नाऊअमृतसर.कॉम पर अमृतसर की खबरों के अलावा पंजाब के मुद्दों-सवालों को भी उठाया जाएगा. अमृतसर के युवाओं को खासतौर पर इस वेबसाइट से जोड़ने की योजना है. अमृतसर के पत्रकारों, फोटोग्राफरों, गणमान्य लोगों की मौजूदगी में इस वेबसाइट की लांचिंग हुई.

मुख्य अतिथि यशवंत सिंह ने नाऊअमृतसर के कार्यालय का उदघाटन फीता काटकर किया. इसके बाद नाऊअमृतसर डॉट कॉम की वेबसाइट के कंटेंट को अपलोड कर न्यूज पोर्टल की लांचिंग की. उन्होंने नाऊअमृतसर की टीम को वेबसाइट की गुणवत्ता और लेआउट के बारे में कई टिप्स दिए.

नाऊअमृतसर की टीम में दानिश गौर के अलावा हरमीत, मनदीप, कौशल और सोनिका हैं. इस टीम को पत्रकार रघु राजा, फोटोग्राफर धीरज शर्मा समेत कई वरिष्ठ जनों ने बधाई दी. इस मौके पर एडवोकेट गुरजीत सिंह नागरा भी मौजूद थे.


नाऊअमृतसर.कॉम तक आप इस लिंक पर क्लिक करके पहुंच सकते हैं- अमृतसर से नई वेबसाइट लांच


इस मौके पर अपने संबोधन में यशवंत ने कहा कि कारपोरेट हाउस में तब्दील हो चुके मीडिया हाउसों से जनपक्षधरता की उम्मीद करना अब बेकार है. उनके पतन पर सिर पीटना भी समय बर्बाद करना है. बजाय अपनी ऊर्जा किसी को सुधारने में लगाने के, हमें ऐसी लकीर खींचनी चाहिए जिससे कारपोरेट मीडिया हाउसों को भी बाद में अपने पतन के बारे में सोचने को मजबूर होना पड़े.

यशवंत ने कहा कि अगर वेब माध्यमों के जरिए हम बेहतर कंटेंट, जनपक्षधर कंटेंट, सच्चाई से लबरेज कंटेंट प्रकाशित करते हैं, निर्भीक पत्रकारिता करते हैं तो इसे चहुंओर स्वीकृति मिलेगी. आज दिक्कत यह है कि सच कहने वालों की संख्या इतनी ज्यादा हो गई है कि सच कहीं खो गया लगता है, दुबक गया लगता है. सच्चाई यह है कि सच कहने के नाम पर आज हर कोई समझौते करने में लगा है.

यशवंत ने बताया कि जो परंपरागत माध्यम हैं, उन्होंने अपने को इतना खर्चीला बना लिया है, इतना बिजनेस ओरियेंटेड कर लिया है कि उन्हें कीचड़ में धंसे अपने पैर को निकाल पाना मुश्किल है. उनका अंत ही उनकी नियति है. आज के युवा पत्रकारों को न्यू मीडिया माध्यमों को अपनाकर आने वाले कल के चौथे खंभे की नींव मजबूत करनी चाहिए. इस समय जो चौथा खंभा है, उसकी नींव में पानी भर चुका है और जल्द ही वह गिरने वाला है. ऐसे में आज के चौथे खंभे का हिस्सा नहीं बनना चाहिए, इसके आसपास भी नहीं खड़ा होना चाहिए क्योंकि जब खंभा गिरेगा तो आसपास के सभी लोग मारे जाएंगे. सबके दामन दागदार होंगे.

यशवंत ने आह्वान किया कि अभी वक्त है, सच्चे और ईमानदार लोगों को न्यू मीडिया को अपनाकर चौथे खंभे के दागदार दामन को उजला करने का प्रयास करना चाहिए, समस्याओं में घिरी जनता की असली समस्याओं को उजागर करना चाहिए, व्यवस्था के पाखंडों-बेइमानियों का पर्दाफाश करना चाहिए.


AddThis
Comments (6)Add Comment
...
written by santosh nirmal jaipur, September 11, 2010
very good, is tereh ki website ka swagat hona chahiye ek bar phir badhai santosh nirmal , jaipur
...
written by amit rishi, August 14, 2010
hi ragu. how ru. u and ur team intative is very good and i wish, one day u will be definately sucessful. with best wishes....amit
...
written by navdeep, August 04, 2010
thik hai main is avsar par journalist ragu raja or jashwant ko vadayee deta hu or aas karta hu ke ragu apne web site par dusro se kush hat kar likhe.jo dusre news papper likhne se katrate hai.
...
written by sunil kaushik kanina(Haryana), August 04, 2010
Swagat
...
written by pradeep srivastava, August 02, 2010
badhai yaswant ji

www.apkinews.blogspot.com

par kilik karen.
...
written by Vishal, August 02, 2010
bahut khushi ki baat ha ajj ka yuva bi patrika ka liya kuch khas likhna ka jagba rakhte hai . or vo bhi amritsar jaise mahan city main . jha kai kayi sheedo nai desh ki azzadi kai liye yogdan diya tha. aur upar sai app nai aise yvuao ka sath dekar iss jajbe main aur jaan dall di . meri wishes nowamritsar.com ki team kai sath hai.

Write comment

busy