बड़े गंदे हैं भास्कर डॉट कॉम वाले

E-mail Print PDF

: अपनी साइट पर जाने क्या-क्या खिसकाते-दिखाते रहते हैं, वृत्त बना-बना कर : लगता है भास्कर डॉट कॉम वालों ने वार्डरोब माल फंक्शन कवरेज के लिए एक अलग ही बीट या कहें टीम बना ली है। दुनिया में कहीं भी किसी के कपड़े खिसके नहीं, सबसे पहले आपको भास्कर पर खबर मिलेगी। कमाल है, क्या विजनरी टीम है.. एक तरफ अच्छी और सकारात्मक खबरों की बात करते हैं.... दूसरी ओर ऐसा घटिया वेब कंटेट देते हैं...

 

 

अपने पोर्टल पर ट्रैफिक बढ़ाने के इतने सस्ते तरीके से आगे जाते हुए अब कॉपी और हेडिंग में कोई मर्यादा या शर्म नहीं रह गई....  नमूने तो हम रोज़ देखते हैं... आज एक खास नमूना दिखा तो सोचा आपके साथ बांट लें.... जरा हेडिंग देखिए क्या दिए हुए हैं.... ''मेहर को पता ही नहीं चला, खिसकी ड्रेस और दिख गए...''

एक पत्रकार द्वारा भेजे गए पत्र पर आधारित.


AddThis