ट्विटर पर एक महिला से उलझ गईं बरखा दत्त!

E-mail Print PDF

ट्विटर पर एक सज्जन (जो संभवतः कश्मीर के हैं) ने बरखा दत्त से पूछा कि क्या हमें मिस्र के तहरीर चौक जैसा कश्मीर में लाल चौक पर कुछ करना चाहिए.... इसके जवाब में बरखा ने शांतिपूर्ण ढंग से किए जाने की बात कही. तो इस बात को एक महिला ने उमर अब्दुल्ला तक पहुंचाया कि बरखा दत्त कश्मीर में मिश्र जैसा कुछ करने की वकालत कर रही हैं. तब किसी ने बरखा को ध्यान दिलाया कि देखिए, आपकी शिकायत उमर अब्दुल्ला से वो महिला कर रही है. बरखा भड़क गईं और उन्होंने उस महिला को क्या कहा, आप खुद पढ़ लीजिए....

ये स्क्रीनशाट ट्विटर पर सक्रिय एक वरिष्ठ मीडियाकर्मी ने भड़ास4मीडिया तक पहुंचाया है. स्क्रीनशाट के शुरुआत से लेकर अंत तक के ट्विट को पढ़ते जाइए. पूरा माजरा समझ में आ जाएगा. क्या आपको लगता है कि बरखा दत्त को किसी महिला के लिए ऐसी भाषा का इस्तेमाल करते हुए आक्रामक तेवर दिखाना चाहिए?


AddThis
Comments (8)Add Comment
...
written by k. singh, February 23, 2011
barkhadat jaisi journalist swarth ke liye kam karti hain agar in ke bus main ho to ye desh ko bechane main bhi dalali kar sakati hain shayad in bataon main bhi unahe swarth nazar aya ho
...
written by manoj, February 23, 2011
barkha ji aap ko yoga karna cahiye aapka mansik santulan nira radia ke karn bigad gaya he veshe bhi raja gaya ab parja{ barkha or nira} ki bari he to aap sabhi jail me hi lobing karna ...........are yoga karne ki lobing .
...
written by Rohit K Gupta, February 23, 2011
देखिये बरखा दत्त ने जो कहाँ वो गलत नही है !
अगर आप से ही कोई पूछता है तो आप भी यही कहेंगे की
जो भी कुछ करना है वो शांति के साथ करे ,
तो इसमे देश द्रोह का मामला क्या है और क्यों जेल में रहना चाहिए ???
और रही बात राजा की तो मै पूछता हूँ की आप लोगो ने कर लिया ,
घोटाले तो हमेशा से होते रहते है कोई छोटा तो कोई बड़ा ,
सब जानते है की कौन कितने पानी मै है !!!
...
written by manhar choudhary, February 23, 2011
यार रखा दत्त की बात को दिल पर मत लो अब इनकी बात का कोई मतलब नहीं लाईजिनिंग करने वालो की क्या बिसात
...
written by shiv kumar, February 22, 2011
Mishar desh hai kashmir desh nahi, is leay aisa kush kane ka kisi ko adhikar nahi hona chahiay Barkha Dutt ji---Your's faithfuly---Thanx you-------Shiv kumar---Sub Editor, Daily jag Bani news paper--publish from jalandhar (punjab)------mob--9988376991
...
written by R.K .ARORA, February 22, 2011
its very shame .barkha aapko right nahi hai media mai rehne ka .cooruption ka bahut bara exmple hain aap is desh mai... deshdroh to nahi but han bhrastachar mai kaise lipt hain wo aap ajise ghatiya insan se sikhen ..are paise kamne ke kai traike hain ...desh mai bhrastachar coruption ..failana kisi deshdroh se kam nahi..hai mam..NDTV .. mai abhi bhi aap yeloow jounalism karti hain..loktantra ke fouth piller ko badnaam kiya ..desh ko bhi...shramshar kiya..... bharat mata aapko kabhi maaf nahi kar sakti aur NDTV par aab bharosa nahi raha na aap jaise logo par ..so barkha ji ..plzz aab to kuch sochen ..kya yahi hai aapki zamir..
...
written by s kumar, February 22, 2011
barkha dutt ka ab naam hi rah gaya hei...pratishtha to khatam ho gayi aise me unko Upadesh nahi dena chahiye....
...
written by John, February 22, 2011
Jo khud Corrupt hai vo kya khak patrakarita karengi ? Barkha Datta ko abhi tak to jail me honaa chahiye tha A.Raja ke saath..

Write comment

busy